इटावा – आगामी 01 अप्रैल से जनपद में शुरु होने वाली गेहूं की खरीद के लिए 32 क्रय केंद्र बनाए गए हैं।

इटावा जनपद प्रशासन

नवीन मंडी का मुख्य प्रवेश द्वार

इटावा। आगामी 01 अप्रैल से जनपद में शुरु होने वाली गेहूं की खरीद के लिए 32 क्रय केंद्र बनाए गए हैं। पिछली बार क्रय केंद्रों की संख्या थी। इस बार भी इतने ही क्रय बनाए जाएंगे और इनकी संख्या 62 रहेगीं। हांलाकि अभी गेहूं की खरीद लक्ष्य और कीमत तय नहीं हुई है। इस बार सबसे ज्यादा 25 क्रय केंद्र पीसीएफ के बनाए गए हैं। जबकि 6 क्रय केंद्र खाद्य निगम के तथा भारतीय खाद्य निगम का एक क्रय केंद्र बनाया गया है।

जिला खाद्य एवं विपणन अधिकारी संतोष पटेल ने बताया, तहसील इटावा में चौबिया, बादरीपूठ,बरालोकपुर चौपुला, सहकारी संघ लि. बसरेहर, दतावली,इंटगांव, बीना,सिरसा एट किल्ली, साधन सहकारी संघ लि.बसरेहर, बख्तियारपुरा में बनाए गए हैं।
जबकि तहसील भरथना में कुंअरा, मुकुटपुर, बकेवर, तहसील ताखा के किसान सेवा सहकारी संघ लि.ऊसराहार तथा सहकारी संघ लि.ऊसराहार, तहसील सैफई के सैफई,रजमऊ,हैंवरा,लाडमपुर, नगला हिम्मत, तहसील जसवंतनगर में बलरई, तिजौरा, जसवंतनगर, मानिकपुर मोहन में बनाए गए हैं।
इसी प्रकार खाद्य विभाग के 6 क्रय केंद्र नवीन मंडी इटावा, नवीन मंडी भरथना, महेवा, ऊसराहार, जसवंतनगर व चकरनगर तथा भारतीय खाद्य निगम का एक मात्र क्रय केंद्र नवीन मंडी जसवंतनगर में बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *