WhatsApp की प्राइवेसी पॉलिसी ने फिर दी दस्तक।

WhatsApp की प्राइवेसी पॉलिसी ने फिर दी दस्तक।

देश - विदेश

नई दिल्ली: मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप (WhatsApp) ने एक बार फिर नई प्राइवेसी पॉलिसी (Privacy Policy) को लागू करने की समयसीमा बढ़ा दी है। अब यूजर 15 मई तक नई पॉलिसी को अपने मन मुताबिक एक्सेप्ट (Accept) या रिजेक्ट (Reject) कर सकते हैं।

वॉट्सऐप के प्रवक्ता ने बयान जारी कर बताया कि हम भारत सरकार से पॉलिसी को लागू करने के लिए बातचीत कर रहे हैं। हमने सरकार को अवगत कराया है कि नई प्राइवेसी में कोई भी लूप नहीं है. लोगों को चेट एंड-टू-एंड एनक्रिप्ट रहती है। यूजर्स की निजता का सम्मान और रक्षा करना हमारे डीएनए (DNA) में है। जब हमने व्हाट्सऐप शुरू किया, तब से हमने अपनी सेवाओं को मजबूत गोपनीयता सिद्धांतों के साथ बनाए रखा है।

पहले 8 फरवरी थी लास्ट डेट

गौरतलब है कि नई पॉलिसी को मानने के लिए वॉट्सऐप ने यूजर्स को पहले 8 फरवरी तक का समय दिया था, जिसे अब 15 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है। विवाद से पहले यूजर्स के पास सिर्फ पॉलिसी को एक्सेप्ट करने का ऑप्शन आ रहा था। हालांकि अभी Accept Later का ऑप्शन भी यूजर्स को दिया जा रहा है। अगर सरकार से बातचीत के बाद नई प्राइवेसी पॉलिसी को हरी झंडी मिल जाती है तो पॉलिसी एक्सेप्ट नहीं करने वाले इस ऐप का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे।

पॉलिसी को मंजूरी मिलने पर क्या होगा?

अगर भारत सरकार वॉट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को मंजूरी दे देती है तो शर्तों के अनुसार, कंपनी आपके डिवाइस की यूजर आईडी, फोन नंबर, ईमेल आईडी, सभी कॉन्टेक्ट, मोबाइल से होने वाले लेन-देन और फोन की लोकेशन जैसी अहम जानकारियां लेगी। नई शर्तों में कहा गया है कि आपके मोबाइल से ली जाने वाली सारी जानकारियां फेसबुक (Facebook) और इंस्टाग्राम (Instagram) के साथ शेयर की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *