EtawahToday

इटावा। अपने जन्मदिन पर शिवपाल सिंह यादव के मन का मलाल मंच पर आया।

इटावा राजनीति

इटावा। अपने जन्मदिन पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी प्रमुख शिवपाल सिंह यादव के मन का मलाल मंच पर आया। मंगलवार रात इस्लामिया कॉलेज में आयोजित मुशायरे में उन्होंने नाम लिए बगैर कई तीर चलाए।

भतीजे अखिलेश यादव का नाम लिए बिना कहा कि मैंने जिन्हें पाला-पोसा वो जसवंतनगर की सीट देकर मुझ पर एहसान जताने की बात कर रहे हैं। मैंने सपा के लिए 403 सीटों की सूची तैयार की और वो मुझे एक सीट का लालीपॉप देकर मजाक कर रहे हैं।
कहा कि 1988 में जिस संघर्ष के साथ पार्टी को आगे बढ़ाया था अब वही दोबारा करना पड़ रहा है। गौरतलब है कि जिला पंचायत की हर सीट से चुनाव लड़ाने का संकेत देकर शिवपाल ने जिले में ही सपा के सामने कड़ी चुनौती खड़ी कर दी है।
दरअसल, 14 नवंबर को दीपावली के मौके पर सैफई स्थित आवास पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अखिलेश यादव ने जसवंतनगर सीट से चाचा शिवपाल के खिलाफ प्रत्याशी न लड़ाने का ऐलान किया था।
इस दौरान उन्होंने सरकार बनने पर शिवपाल को मंत्रालय देने की बात भी कही थी। मंगलवार को मुशायरे के दौरान शिवपाल ने अखिलेश के उस बयान के जवाब में निशाना साधा। अंत में शिवपाल भावुक होकर बोले, मैं अकेला ही चला था सफर पर, लोग मिलते गए और करवां बनता गया।
इस दौरान पूर्व सांसद रघुराज सिंह शाक्य, प्रसपा जिलाध्यक्ष सुनील यादव, अनुज यादव मोंटी, कृष्ण मुरारी गुप्ता, अनवर पहलवान, आशीष पटेल, बन्ने मंसूरी, अनवार हुसैन राईनी, निशांत चौधरी, मयंक विधौलिया, आलोक दीक्षित, फरहान शकील, कामिल कुरैशी आदि उपस्थित रहे।

इटावा। अपने जन्मदिन पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी प्रमुख शिवपाल सिंह यादव के मन का मलाल मंच पर आया। मंगलवार रात इस्लामिया कॉलेज में आयोजित मुशायरे में उन्होंने नाम लिए बगैर कई तीर चलाए।

भतीजे अखिलेश यादव का नाम लिए बिना कहा कि मैंने जिन्हें पाला-पोसा वो जसवंतनगर की सीट देकर मुझ पर एहसान जताने की बात कर रहे हैं। मैंने सपा के लिए 403 सीटों की सूची तैयार की और वो मुझे एक सीट का लालीपॉप देकर मजाक कर रहे हैं।

कहा कि 1988 में जिस संघर्ष के साथ पार्टी को आगे बढ़ाया था अब वही दोबारा करना पड़ रहा है। गौरतलब है कि जिला पंचायत की हर सीट से चुनाव लड़ाने का संकेत देकर शिवपाल ने जिले में ही सपा के सामने कड़ी चुनौती खड़ी कर दी है।

दरअसल, 14 नवंबर को दीपावली के मौके पर सैफई स्थित आवास पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अखिलेश यादव ने जसवंतनगर सीट से चाचा शिवपाल के खिलाफ प्रत्याशी न लड़ाने का ऐलान किया था।

इस दौरान उन्होंने सरकार बनने पर शिवपाल को मंत्रालय देने की बात भी कही थी। मंगलवार को मुशायरे के दौरान शिवपाल ने अखिलेश के उस बयान के जवाब में निशाना साधा। अंत में शिवपाल भावुक होकर बोले, मैं अकेला ही चला था सफर पर, लोग मिलते गए और करवां बनता गया।

इस दौरान पूर्व सांसद रघुराज सिंह शाक्य, प्रसपा जिलाध्यक्ष सुनील यादव, अनुज यादव मोंटी, कृष्ण मुरारी गुप्ता, अनवर पहलवान, आशीष पटेल, बन्ने मंसूरी, अनवार हुसैन राईनी, निशांत चौधरी, मयंक विधौलिया, आलोक दीक्षित, फरहान शकील, कामिल कुरैशी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *