इटावा – माध्यमिक शिक्षा विभाग ने लांच किया ई – ज्ञान गंगा प्रोजेक्ट

इटावा शिक्षा

इटावा – उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा संचालित माध्यमिक विद्यालयों में अब लॉक डाउन की अवधि में वर्चुअल स्कूल एवं ई ज्ञान गंगा के माध्यम से पठन पाठन सम्पन्न कराया जायेगा ।
उक्त कार्यक्रम की जानकारी देते हुये जिला विद्यालय निरीक्षक राजू राणा ने बताया कि, उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा संचालित समस्त माध्यमिक विद्यालयों में पूर्व में लागू लाॅकडाउन की वजह से छात्र छात्राओं की पढ़ाई बाधित हो रही थी, लेकिन राज्य सरकार अब से माध्यमिक शिक्षा के वर्चुअल स्कूल एवं ई-ज्ञान गंगा कार्यक्रम के माध्यम से कक्षा 9 से लेकर कक्षा 12 तक के माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के सभी बच्चो को ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करेगी । दूरदर्शन उ0प्र0 चैनल पर कक्षा-10 एवं 12 हेतु सोमवार से शुक्रवार तक दोपहर 1.00 बजे से 2.00 बजे तक, 2.30 बजे से 3.00 बजे तक, 3.30 बजे से शाम 5.00 बजे तक,फिर 5.30 बजे से लेकर 6.30 बजे तक वर्चुअल ई क्लास का प्रसारण होगा।
इसी प्रकार स्वंय प्रभा चैनल-22 पर कक्षा-9 एवं 11 हेतु सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 11.00 बजे से दोपहर 1.00 बजे तक तथा 4.30 बजे से शाम 6.30 बजे तक सम्बंधित विषय के शिक्षा कार्यक्रम प्रसारित होंगे। इन प्रसारित वीडियोज को छात्र छात्राये यू-ट्यूब चैनल ‘‘माध्यमिक शिक्षा विभाग उ0प्र0’’ पर भी पुनः देख सकते है। उक्त वीडियोज की समय सारिणी प्रत्येक सप्ताह के अंत में प्रसारित की जाएगी। जिसके बारे में स्कूल के प्रधानाचार्य के माध्यम से जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। जिसका विस्तृत विवरण उ0प माध्यमिक शिक्षा परिषद प्रयागराज की बेबसाइट पर भी उपलब्ध है।
सोमवार से शुक्रवार तक 05 दिन कक्षावार/विषयवार किए गए अध्यापन कार्य के बाद प्रत्येक शनिवार को विद्यालय के शिक्षकों द्वारा विद्यार्थियों की जिज्ञासाओं का समाधान व्हाट्सएप, गूगल मीट व अन्य ऑनलाइन माध्यमों से किया जाएगा। प्रत्येक सप्ताह में शनिवार को महत्वपूर्ण विषयों के वीडियो पुनः भी प्रसारित किए जाएंगे। ऐसे विद्यार्थी जिनके पास टेलीविजन अथवा ऑनलाइन शिक्षा हेतु कोई व्यवस्था नही है, उनके लिये सम्बन्धित पाठ्य सामग्री विद्यालय के प्रधानाचार्य द्वारा उनके अभिभावकों को विद्यालय में बुलाकर उपलब्ध करायी जाएगी।
छात्र/छात्राओं के मूल्यांकन के लिए स्वंयप्रभा/दूरदर्शन के माध्यम से प्रत्येक माह के अन्त में मूल्यांकन हेतु प्रश्न भी प्रसारित किये जाएंगे। छात्रों द्वारा प्रसारित प्रश्नों के उत्तर व्हाट्सएप् के माध्यम से अध्यापकों को प्रेषित किए जाएंगे। ऐसे विद्यार्थी जो व्हाट्सएप के माध्यम से उत्तर प्रेषित नहीं कर सकते उनके लिए विद्यालय में कक्षावार ड्रापबाक्स की व्यवस्था भी की जा रही है । सम्बन्धित विद्यार्थी के अभिभावक ड्रापबाक्स में अपना उत्तर डाल सकते हैं। उन्होंने बताया कि छात्रहित में दिनांक 01.07.2020 से कक्षा-10 एवं 12 के पाठ्यक्रमों के शैक्षणिक वीडियो बनाकर छात्रों हेतु स्वयंप्रभा चैनल-22 पर प्रसारित कराए जा रहे हैं। स्वंयप्रभा चैनल डी0टी0एच0, डिश टी0वी0 एवं जियो टी0वी0 एप पर ही उपलब्ध है। प्रोजेक्ट के सफलतापूर्वक संचालन के लिए स्वयं मेरे द्वारा एक बैठक गूगल मीट के माध्यम से आगामी दिनांक 25 अगस्त 2020 को आयोजित की जाएगी। राजकीय एवं सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाचार्यों की बैठक 11.30 बजे से 12.15 बजे तक तथा अशासकीय सहायता प्राप्त (वित्तविहीन) विद्यालयों की बैठक 12.30 बजे से 1.15 बजे तक आहूत की जाएगी। बैठक का लिंक बैठक के समय से 15 मिनट पूर्व व्हाट्सएप ग्रुप पर सेंड किया जाएगा,इस लिंक पर क्लिक करके विद्यालयों के सभी प्रधानाचार्य इस ऑनलाइन बैठक में प्रतिभाग कर सकते हैं। सहायक जिला विद्यालय निरीक्षक व प्रभारी ई – ज्ञान गंगा कार्यक्रम डॉ मुकेश यादव ने कहा कि, हमारा उद्देश्य वर्चुअल व ई ज्ञान गंगा के माध्यम से सभी छात्र छात्राओं को पाठ्यक्रम से जोड़ना है जिससे कोई भी छात्र छात्रा शिक्षा से वंचित न रहे। सरकार व शासन की इसी मंशा को क्रियान्वित करने हेतु हम सभी दृढ़संकल्पित है। स्वयंप्रभा चैनल- 22 व दूरदर्शन के माध्यम से शिक्षा का व्यापक प्रचार प्रसार कर सभी तक पाठ्यक्रम को पहुँचाना एक बड़ी चुनौती भी है जिसे हम सभी मिलकर पूर्ण करेंगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.