इटावा: जिला अस्पताल के सर्जन के पिता निकले संक्रमित

इटावा कोरोना अपडेट चर्चा में जनपद प्रशासन

जनपद में कोरोना संक्रमितों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। शनिवार को डा. बीआर आंबेडकर संयुक्त जिला अस्पताल में सर्जन के पद पर कार्यरत महिला चिकित्सक के पिता के संक्रमित आने पर अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया।

इटावा : शहर के आवास विकास कालोनी में रहने वाले 73 वर्षीय वृद्ध बीती 27 मई को अपने पैतृक गांव चकरनगर क्षेत्र के ग्राम मानपुरा गए हुए थे। वहां से जब 28 मई को लौट कर आए तो हालत खराब होने पर 28 मई को उनकी जिला अस्पताल में जांच कराई गई थी। 30 मई को उनकी रिपोर्ट पॉजीटिव आने पर हड़कंप मच गया। बताया गया है कि इससे पहले वह जयपुर-राजस्थान भी गए थे। संक्रमित वृद्ध की पुत्रवधू महिला जिला अस्पताल में चिकित्सक है। मामले की गंभीरता को देखते हुए महिला जिला अस्पताल के सीएमएस डा. अशोक कुमार जाटव ने ओपीडी सहित लेबर रूम व अन्य कक्षों को सैनिटाइज कराकर सुरक्षा के इंतजाम पूरे करा दिए। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एनएस तोमर ने बताया कि संक्रमित की उम्र अधिक होने के कारण उनको उप्र आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय सैफई भेजा गया है। इनके परिजनों का सैंपल लिया गया है। एसडीएम सदर सिद्धार्थ ने बताया कि डॉक्टर के घर के आसपास के इलाके को सील कर दिया गया है। पिता की ट्रेवलिग हिस्ट्री को चेक किया जा रहा है। इसके साथ ही एक दूसरा संक्रमित भी इटावा का रहने वाला है, लेकिन वह स्वास्थ्य विभाग फिरोजाबाद में तैनात है। 

संक्रमित वृद्ध की पुत्रवधू महिला जिला अस्पताल में चिकित्सक है। मामले की गंभीरता को देखते हुए महिला जिला अस्पताल के सीएमएस डा. अशोक कुमार जाटव ने ओपीडी सहित लेबर रूम व अन्य कक्षों को सैनिटाइज कराकर सुरक्षा के इंतजाम पूरे करा दिए। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एनएस तोमर ने बताया कि संक्रमित की उम्र अधिक होने के कारण उनको उप्र आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय सैफई भेजा गया है। इनके परिजनों का सैंपल लिया गया है। एसडीएम सदर सिद्धार्थ ने बताया कि डॉक्टर के घर के आसपास के इलाके को सील कर दिया गया है। पिता की ट्रेवलिग हिस्ट्री को चेक किया जा रहा है। इसके साथ ही एक दूसरा संक्रमित भी इटावा का रहने वाला है, लेकिन वह स्वास्थ्य विभाग फिरोजाबाद में तैनात है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.