इटावा: बेटी की शादी करने जा रहा परिवार हादसे का शिकार, मां और दो बेटों की मौके पर मौत

चर्चा में हादसा

इटावा में नेशनल हाई वे पर एक बोलेरो जीप खड़े ट्रक में जा घुसी. इस सड़क हादसे में एक परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई. इसमें मां और दो बेटे शामिल हैं. जानकारी के मुताबिक परिवार अपनी बेटी की शादी करने कासगंज जा रहा था

इटावा। छत्तीसग़ढ से कासगंज अपने पैतृक गांव लड़की की शादी करने आ रहे एक परिवार की बोलेरो जीप नेशनल हाईवे पर खड़े ट्रक से भिड़ गई. इस हादसे में मां और दो बेटों की मौत हो गई और 5 लोग गंभीर रूप से घायल हो गये. घायलों को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया है. ये दुर्घटना सुबह तड़के हुई.

जानकारी के मुताबिक बेटी के शादी के लिये जा रहे परिवार की खुशियां उस वक़्त मातम में बदल गई, जब सूरज निकलने से पहले नेशनल हाईवे-2 पर बकेवर थाने में एक बोलेरो खड़े ट्रक से टकरा गई. बोलेरो में एक ही परिवार के आठ लोग सवार थे. परिवार के मुखिया राजाराम नायक अपनी बड़ी बेटी आरती की शादी अपने पैतृक गांव उत्तर प्रदेश के कासगंज के गांव धरना निनाव से करने जा रहे थे. राजाराम नायक पिछले 25 साल से छत्तीसगढ़ के गंडई में कपड़े की फेरी लगाने का काम करते हैं और अब परिवार के साथ छत्तीसगढ़ में रहते हैं. हादसे के वक़्त पूरा परिवार पत्नी, बेटे और बेटियां गाड़ी में मौजूद थे. हादसे में पत्नी और दो बेटों की मौत हो गई.

हादसे में बोलेरो सवार राजाराम की 45 वर्षीय पत्नी रेखा, 18 वर्षीय पुत्र पंकज और 13 वर्षीय पुत्र बंटी की मौके पर मौत हो गई, वहीं राजाराम, दो पुत्रियां व चालक सहित पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. राहगीरों ने घटना की सूचना पुलिस को दी तो थाना प्रभारी निरीक्षक बचन सिंह पुलिस फोर्स लेकर पहुंच गए. उन्होंने घायलों को बाहर निकालकर अस्पताल भिजवाया और क्रेन बुलाकर बोलेरो को हाईवे से किनारे कराया. पुलिस के मुताबिक राजाराम 25 साल से छत्तीसगढ़ में रहकर कारोबार कर रहा है, बेटी की शादी के लिए गांव जा रहा था. शुरुआती जांच में बोलेरो की ब्रेक फेल होने से हादसा होने की बात सामने आई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.